कंप्यूटर कैसे सीखे हिंदी में

दोस्तों जैसे हम देख रहे है धीरे धीरे दुनिया कंप्यूटर की तरफ जा रही है और ऐसे में कंप्यूटर सीखना बोहोत ज़रूरी है। में आपको इस ब्लॉग में यही बताने वाला हु की Computer Kaise Sikhe Hindi Main. जैसे आप सब सोच रहे हो वैसे कंप्यूटर चलना मुश्किल नहीं है, बस आप सब इसे पहले बार चलने जा रहे हो इसलिए हो सकता है की आपको थोड़ा मुश्किल लग रहा होगा । परन्तु आपको कोई चिंता करने आवश्यकता नहीं है में आपको सबसे अच्छी कोर्सेज बताऊंगा जिससे आप आसानीसे कंप्यूटर सिख सकते है।

कंप्यूटर का इतिहास हिंदी में – Computer ka itihas Hindi main

दोस्तों कंप्यूटर सिखने से पहले हमें कंप्यूटर का इतिहास पता होना बोहोत ज़रूरी है इसलिए में आपको में पहले कंप्यूटर के बारेमे कुछ जानकारी बताता हु। मनुष्यों के विकास के बाद से, उपकरणों का उपयोग हजारों वर्षों से गणना के लिए किया जाता रहा है। सबसे पुराने और सबसे प्रसिद्ध उपकरणों में से एक अबेकस था। फिर 1822 में, कंप्यूटर के पिता, चार्ल्स बैबेज ने विकसित करना शुरू किया कि पहला मैकेनिकल कंप्यूटर क्या होगा। और फिर 1833 में उन्होंने वास्तव में एक विश्लेषणात्मक इंजन तैयार किया जो एक सामान्य प्रयोजन वाला कंप्यूटर था। इसमें एक एएलयू, कुछ बुनियादी प्रवाह चार्ट सिद्धांत और एकीकृत स्मृति की अवधारणा शामिल थी।

फिर कंप्यूटर के इतिहास में एक सदी से भी अधिक समय के बाद, हमें अपना पहला इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर सामान्य प्रयोजन के लिए मिला। यह ENIAC था, जो इलेक्ट्रॉनिक न्यूमेरिकल इंटीग्रेटर और कंप्यूटर के लिए है। इस कंप्यूटर के आविष्कारक जॉन डब्ल्यू मौचली और जे. प्रेस्पर एकर्ट थे। और समय के साथ तकनीक विकसित हुई और कंप्यूटर छोटे होते गए और प्रोसेसिंग तेज होती गई। हमें अपना पहला लैपटॉप 1981 में मिला था और इसे एडम ओसबोर्न और EPSON द्वारा पेश किया गया था।

कंप्यूटर के प्रकार – Computer ke prakar

  1. Analog Computer – एनालॉग कंप्यूटर
  2. Digital computer – डिजिटल कंप्यूटर
  3. Mainframe Computer – मेनफ़्रेम कंप्यूटर
  4. Supercomputer – सुपर कंप्यूटर
  5. Mini Computers – मिनी कंप्यूटर

Analog Computer – एनालॉग कंप्यूटर

एनालॉग कंप्यूटर विभिन्न घटको जैसे गिअर और लीवर के साथ बनाये जाते है। जिसमे कोई विद्युत् घातक नहीं होता है। एनालॉग कम्प्यूटेशन का एक फायदा यह है की किसी विशिष्ट समस्या से निपट ने के लिए एनालॉग कंप्यूटर का डेसिंग बोहोत सरल होता है।

Digital Computer – डिजिटल कंप्यूटर

डिजिटल कंप्यूटर में सूचना को असतत रूप में दर्शाया जाता है, आमतौर पर 0s और 1s (बाइनरी अंक, या बिट्स) के अनुक्रम के रूप में। डिजिटल कंप्यूटर एक प्रणाली या गैजेट है जो किसी भी प्रकार की जानकारी को कुछ ही सेकंड में संसाधित कर सकता है। डिजिटल कंप्यूटर को कई अलग-अलग प्रकारों में वर्गीकृत किया जाता है।

Super Computer – सुपर कंप्यूटर

आज तक के सबसे शक्तिशाली कंप्यूटरों को आमतौर पर सुपर कंप्यूटर कहा जाता है। सुपर कंप्यूटर विशाल सिस्टम हैं जो जटिल वैज्ञानिक और औद्योगिक समस्याओं को हल करने के उद्देश्य से बनाए गए हैं। क्वांटम यांत्रिकी, मौसम की भविष्यवाणी, तेल और गैस की खोज, आणविक मॉडलिंग, भौतिक सिमुलेशन, वायुगतिकी, परमाणु संलयन अनुसंधान और क्रिप्टोएनालिसिस सभी सुपर कंप्यूटर पर किए जाते हैं।

Computer kaise sikhe Hindi main – कंप्यूटर कैसे सीखे हिंदी में

जैसे अब अपने कंप्यूटर के बारेमे ज़रूरी बातें जान ली उतनी ही आसानीसे आप कंप्यूटर सिख सकते है। कंप्यूटर सिखने सबसे पहले आपके पास कंप्यूटर होना ज़रूरी है या फिर आपको किसी कंप्यूटर कैफ़े में कंप्यूटर रेंट से लेना होगा। आप कंप्यूटर तब ही सिख पाओगे जब आप जब आपके पास कंप्यूटर हो और आप उसे रोज़ इस्तमाल करो। आप क्लासेस करोगे तोह भी आपको बिना कंप्यूटर चलाये आप कंप्यूटर नहीं सिख पाओगे। कंप्यूटर सिखने जितना ही ज़रूरी होता है कंप्यूटर को रोज़ इस्तमाल करना और इस्तमाल कर पाना।

Computer kaise sikhe Hindi main – Courses

  1. CollageDunia – कॉलेज दुनिया कंप्यूटर कोर्स 
  2. Zdnet – ज़डनेट कंप्यूटर कोर्स

कंप्यूटर कैसे सीखे हिंदी में – computer kaise sikhe hindi main

Leave a Comment